Ek Shaam Parivar Ke Naam

Ek Shaam Parivar Ke Naam   

Author: Vijayshankar Mehta
ISBN: 9789351864837
Language: Hindi
Publisher: Prabhat Prakashan
Edition: 1
Publication Year: 2015
Pages: 128
Binding Style: Hard Cover
Rs. 175
Inclusive of taxes
In Stock
Call +91-11-23289555
for assistance from our product expert.
Description

आनेवाले 20 वर्षों में भारत दुनिया के विकसित देशों में होगा; लेकिन इसी के साथ चिंता भी होती है कि हमारे पास जब सबकुछ होगा तो कहीं हम परिवार से हाथ न धो बैठें।

आज टूटन व बिखराव की ध्वनि परिवारों से निकलने लगी है। इसलिए यह आवश्यक है कि हम जानें कि परिवार कैसे बचाए जाएँ। लेखक ने अपनी कथाओं में इसी समस्या पर ध्यान केंद्रित किया है और यह पुस्तक भी इसी भाव को समर्पित है।

‘एक शाम परिवार के नाम’ लेखक का एक व्याख्यान है, जिसे खूब सुना जाता है। इस पुस्तक में उसी व्याख्यान के अंश समाहित हैं। हनुमानजी महाराज परिवार के देवता हैं, अतः जीवन उन्हीं के आसपास बीतता है। लेखक का कहना है कि मैं ‘हनुमान चालीसा’ ओढ़ता हूँ, बिछाता हूँ।

परिवार में माधुर्य, पारस्परिकता, प्रेमभाव और एकात्मता जाग्रत् करनेवाली प्रेरक पुस्तक।

The Author
Vijayshankar MehtaVijayshankar Mehta
Reviews
Copyright © 2017 Prabhat Prakashan
Online Ordering      Privacy Policy