Prabhat Prakashan, one of the leading publishing houses in India Careers | Publish With Us | Dealers | Download Catalogues
Helpline: +91-7827007777

Prabhat Prakashan

WELCOME TO THE LARGEST Hindi Publishers of 4500 + Books

Categories

Videos

news and events

news and events

9 अक्टूबर 2016 को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, संघ के सरकार्यवाह श्री भय्याजी जोशी तथा भाजपा...Read More

testimonial
डॉ. शंकर दयाल शर्मा, पूर्व राष्ट्रपति 

मेरा सबसे प्रिय प्रकाशक प्रभात प्रकाशन है, जो सुरुचिपूर्ण और संस्कारप्रद पुस्तकें प्रकाशित करता है।

डॉ. ए. पी. जे. अब्दुल कलाम, पूर्व राष्ट्रपति

मेरी कुछेक पुस्तकों को छोड़कर सभी पुस्तकें हिंदी में प्रभात प्रकाशन ने छापी हैं, वह भी बडे़ कम मूल्य पर अधिकाधिक पाठकों तक पहुँचाने के लिए।

परम पूज्य दलाई लामा

मेरी प्रामाणिक जीवनी व मेरी अनेक पुस्तकें प्रभात प्रकाशन ने सुंदर रूप में प्रकाशित की हैं।

श्री अटल बिहारी वाजपेयी, पूर्व प्रधानमंत्री

प्रभात प्रकाशन की पुस्तकों की गुणवत्ता देखकर मुझे ईर्ष्या होती थी कि मेरी भी पुस्तकें प्रकाशित हों। अब अपनी पुस्तकें इतने सुंदर स्वरूप में देखकर मैं आनंदित हूँ।

श्री लालकृष्ण आडवाणी, पूर्व उप प्रधानमंत्री

अपने जीवनकाल में मैंने शायद सबसे अधिक पुस्तकें प्रभात प्रकाशन की लोकार्पित की होंगी। उनकी पुस्तकों में राष्ट्रवाद और देशभक्ति का जयघोष होता है।

श्री नीतीश कुमार, बिहार के मुख्यमंत्री

प्रभात प्रकाशन को बिहार पर इतनी अधिक पुस्तकें प्रकाशित करने के लिए याद किया जाएगा। मेरी पुस्तकें भी यहीं से प्रकाशित होती हैं।

फील्ड मार्शल एस. एच. एफ. जेमानेकशॅा

प्रभात प्रकाशन ने सैनिकों का मनोबल बढ़ाने के लिए राष्ट्रप्रेम की अच्छी पुस्तकें प्रकाशित की हैं।

श्री बराक ओबामा, अमेरिकी राष्ट्रपति

मेरे विचारों को भारत की सबसे अधिक बोली जानेवाली भाषा हिंदी में प्रस्तुत करने के लिए भारत के प्रसिद्ध प्रकाशक प्रभात प्रकाशन की पूरी टीम का आभार।

सर वी. एस. नायपॉल, साहित्य के लिए नोबल पुरस्कार विजेता

प्रभात प्रकाशन द्वारा प्रकाशित अपनी पहली हिंदी पुस्तक को देख मैं अपने आप को रोमांचित महसूस कर रहा हूँ।

स्वामी रामदेव, प्रसिद्ध योगगुरु

मैं प्रभात प्रकाशन को राष्ट्रवादी साहित्य के प्रकाशन के कारण जानता हूँ।

पं. विद्यानिवास मिश्र, प्रसिद्ध साहित्यकार

सांस्कृतिक राष्ट्रवाद, धर्म व संस्कृति की पुस्तकें तथा ‘साहित्य अमृत’ प्रकाशित करने के लिए प्रभात प्रकाशन बधाई का पात्र है।

पूज्य मोरारी बापू, विश्व प्रसिद्ध राम कथा मर्मज्ञ

जैसे हेमंत शर्मा की पुस्तक ‘कैलास मानसरोवर’ द्वितीयोनास्ति है, वैसे ही प्रभात प्रकाशन भी द्वितीयोनास्ति है।

जनरल जे. जे. सिंह, भारत के पूर्व थल सेनाध्यक्ष

प्रभात प्रकाशन हिंदी का बेस्ट पब्लिशर है। मैंने देखा कि इन्होंने हमारी सेनाओं की कीर्ति को बढ़ानेवाली अनेक पुस्तकें प्रकाशित की हैं।

श्रीमती सुधा मूर्ति, प्रसिद्ध लेखिका व समाज सेविका

मेरी सभी पुस्तकें हिंदी में प्रभात प्रकाशन बखूबी छापता है।

श्री हरि प्रसाद चौरसिया, विश्वप्रसिद्ध बांसुरीवादक

मैं हर्षित हूँ कि मेरी जीवनी प्रभात प्रकाशन ने सुरुचिपूर्ण ढंग से प्रकाशित की है।

श्री अनुपमखेर, फिल्म अभिनेता

अपनी पुस्तक के हिंदी संस्करण के इस भव्य कार्यक्रम को देख मैं भावुक हो रहा हूँ। प्रभात प्रकाशन ही ऐसा आयोजन कर सकता है।

श्री चेतन भगत, प्रसिद्ध लेखक

मेरी पुस्तकें हिंदी में प्रकाशित कर प्रभात प्रकाशन ने मुझे पूरे भारत से जोड़ दिया है।

सुश्री तारा सिन्हा, पूर्व राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की पौत्री

देशरत्न राजेंद्र बाबू की पुस्तकें प्रकाशित कर प्रभात प्रकाशन ने हमारे पितामह को पुनर्जीवित कर दिया है।

डॉ. किरण बेदी, पूर्व आई. पी. एस. अधिकारी

सामाजिक चेतना जाग्रत् करने के प्रयासों को बल देनेवाली पुस्तकें प्रकाशित करने में प्रभात प्रकाशन का बड़ा अमूल्य योगदान है।