Prabhat Prakashan, one of the leading publishing houses in India eBooks | Careers | Publish With Us | Dealers | Download Catalogues
Helpline: +91-7827007777

5 Point Someone   

₹400

In stock
  We provide FREE Delivery on orders over ₹1500.00
Delivery Usually delivered in 5-6 days.
Author Chetan Bhagat
Features
  • ISBN : 9788173156267
  • Language : Hindi
  • Publisher : Prabhat Prakashan
  • Edition : 1st
  • ...more

More Information about International Finance: Theory and Policy, 10th ed.

  • Chetan Bhagat
  • 9788173156267
  • Hindi
  • Prabhat Prakashan
  • 1st
  • 2016
  • 224
  • Hard Cover

Description

रेयान दौड़कर बोर्ड के पास पहुँचा और पहली पंक्ति के नाइन पॉइंटर मुसकराए कि एक फाइव पॉइंटर क्लास के लिए योगदान देगा।
यद्यपि समीकरण सही था; रेयान बोर्ड तक नहीं जाता, जब तक कि वह यह न जान ले कि वह सही है।
“बहुत अच्छा, धन्यवाद रेयान। अच्छा, पिछले टर्म पेपर में स्कूटर के पेट्रोल के उपयोग पर लूब्रीकेंट की कार्य-क्षमता के बारे में तुमने ही लिखा था?” “जी हाँ, सर।”
“क्या यह सच है कि यह परिणाम तुमने अपने स्कूटर पर टेस्ट किया है?”
“हाँ, मैंने किया है, सर। यद्यपि बिलकुल सही तरीके से नहीं।”
“वह मुझे अच्छा लगा।” प्रो. वीरा ने नाइन पॉइंटर्स की तरफ देखते हुए कहा, जो रट्टू तोतों की तरह नोट्स बनाने में व्यस्त थे—“मुझे वास्तव में अच्छा लगा।”
—इसी उपन्यास से
आज की गलाकाट प्रतिस्पर्द्धा के दौर में कैसे अपनी क्षमता, इच्छाशक्ति और कुछ हासिल करने की शिद्दत से युवा सफल हो सकते हैं-यह मूल संदेश है 5 पॉइंट समवन का ।
लेखन के क्षेत्र में पदार्पण करते ही अपनी सरल-सुबोध भाषा, आकर्षक शिल्प तथा किस्सागोई के कारण लाखों युवाओं को लुभा लेनेवाले बेस्टसेलर लेखक चेतन भगत का उपन्यास है 5 पॉइंट समवन।

______________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________

क्रम-सूची

1. विकट शुरुआत—13

2. टर्मिनेटर —21

3. नाजुक पैर और कार —30

4. सीमा रेखा —36

5. लड़ाई नहीं, पढ़ाई—49

6. फाइव पॉइंट समथिंग—58

7. आलोक के विचार—67

8. एक साल बाद—71

9. तंत्र का दबाव—86

10. सहयोग का प्रभाव—95

11. उपहार—102

12. नेहा के विचार—116

13. एक और साल बाद—119

14. वोदका—127

15. ऑपरेशन पेंडुलम —137

16. मेरे जीवन का सबसे लंबा दिन : 1—141

17. मेरे जीवन का सबसे लंबा दिन : 2—147

18. मेरे जीवन का सबसे लंबा दिन : 3—156

19. मेरे जीवन का सबसे लंबा दिन : 4—162

20. मेरे जीवन का सबसे लंबा दिन : 5—171

21. मेरे जीवन का सबसे लंबा दिन : 6—178

22. रेयान के विचार—181

23. काजू बरफी—184

24. या हम यह कर पाएँगे?—187

25. पत्र का रहस्य—196

26. डैडी से मुलाकात—204

27. फाइव पॉइंट समवन—214

The Author

Chetan Bhagat

आई.आई.टी./आई.आई.एम. (अहमदाबाद) के स्नातक चेतन भगत ने अपने पहले ही उपन्यास से साहित्यिक क्षितिज पर अपनी उपस्थिति इस धमाकेदार तरीके से दर्ज करवाई कि न्यूयॉर्क टाइम्स ने उन्हें ‘भारतीय इतिहास में सर्वाधिक बिकनेवाला उपन्यासकार’ का खिताब दे दिया। उनके दो अन्य उपन्यासों ‘वन नाइट ञ्च द कॉल सेंटर’ तथा ‘द थ्री मिस्टेक्स इन माई लाईफ’ ने अपार लोकप्रियता अर्जित की है और इनपर शीघ्र ही हिंदी फिल्में भी प्रदर्शित होनेवाली हैं।
ग्यारह वर्ष हांगकांग में रहने के बाद वर्ष 2008 में चेतन वापस मुंबई आ गए, जहाँ वह ‘इन्वेस्टमेंट बैंकर’ का काम करते हैं। लेखन के अलावा इनकी रुचि पटकथा व अध्यात्म में भी है।
चेतन आई.आई.एम. की अपनी सहपाठी अनुषा से विवाहित हैं और अपने दो पुत्रों—ईशान तथा श्याम के साथ मुंबई में रहते हैं।
संपर्क www.chetanbhagat.com
ई-मेल info@chetanbhagat.com

Customers who bought this also bought

WRITE YOUR OWN REVIEW