Prabhat Prakashan, one of the leading publishing houses in India eBooks | Careers | Publish With Us | Dealers | Download Catalogues
Helpline: +91-7827007777

Accupressure Chikitsa   

₹400

In stock
  We provide FREE Delivery on orders over ₹1500.00
Delivery Usually delivered in 5-6 days.
Author Preeti Pai , A.K. Saxena
Features
  • ISBN : 9789382901600
  • Language : Hindi
  • Publisher : Prabhat Prakashan
  • Edition : 1
  • ...more

More Information about International Finance: Theory and Policy, 10th ed.

  • Preeti Pai , A.K. Saxena
  • 9789382901600
  • Hindi
  • Prabhat Prakashan
  • 1
  • 2018
  • 240
  • Hard Cover

Description

पिछले कुछ वर्षों में एक्यूप्रेशर ने काफी ख्याति अर्जित की है, जिसका प्रमुख कारण यह है कि इसमें किसी तरह की दवाइयों या शल्य चिकित्सा की जरूरत नहीं पड़ती, जिससे यह हर तरह के साइड इफेक्ट से मुक्त है। यह पूरी तरह से गैरपरंपरागत, सुरक्षित और गैर-हस्तक्षेपकारी है। इतना ही नहीं, गरदन के दर्द या लंबर स्पॉण्डिलाइटिस,  साइनसाइटिस, पीठ दर्द, घुटनों के दर्द, एडि़यों के दर्द, साइएटिका, डिस्क खिसकने, कब्ज, अपच, अनिद्रा, अवसाद, टेनिस एल्बो, दमा, हाइपर टेंशन, माइग्रेन, स्नायु संबंधी समस्याओं आदि में भी बेहद उपयोगी साबित हुई है।

काफी समय से इस बात की आवश्यकता अनुभव की जा रही थी कि कोई ऐसी पुस्तक प्रश्नोत्तर रूप में हो, जिसमें इस थेरैपी के असर और उपयोगिता के बारे में आम पाठक के मन में उठने वाले सारे प्रश्नों के उत्तर दिए गए हों। यह पुस्तक उस अभाव की पूर्ति करती है। इसमें स्वास्थ्य ठीक रखने के लिए एक्यूप्रेशर का उपयोग और उसके महत्त्व को चित्रों के जरिए यथासंभव स्पष्टता के साथ समझाया गया है। नीरोग रहने के लिए बिना किसी साइड इफेक्ट के एक्यूप्रेशर चिकित्सा का व्यावहारिक उपयोग बनानेवाली महत्त्वपूर्ण पुस्तक।

__________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________________

विषय सूची
1. एक्यूप्रेशर तथा उसके लाभ — Pgs. 23
2. ऐतिहासिक पृष्ठभूमि — Pgs. 24
3. पूरक चिकित्सा पद्धति — Pgs. 27
4. एक्यूप्रेशर की कार्य क्षमता — Pgs. 29
5. परिभाषा — Pgs. 30
6. मेरिडियंस का पूरा ज्ञान — Pgs. 33
7. प्रेशर प्वॉइंट्स का ज्ञान — Pgs. 35
8. एक्यूप्रेशर तकनीक — Pgs. 37
9. बुनियादी उपकरण — Pgs. 40
10. गलत प्वॉइंट्स पर दबाव — Pgs. 43
11. प्रेशर प्वॉइंट्स — Pgs. 46
12. एक्यूप्रेशर और एलोपैथिक चिकित्सा — Pgs. 47
13. एक्यूप्रेशर चिकित्सा में कितना समय — Pgs. 48
14. पेट खाली होना चाहिए? — Pgs. 49
15. क्या एक्यूप्रेशर से इलाज स्थायी है — Pgs. 49
16. रिफ्लेक्स प्वॉइंट्स हथेलियों और तलवों में — Pgs. 49
17. जोन थेरेपी रिफ्लेक्सोलॉजी या एक्यूप्रेशर का आधार — Pgs. 50
18. क्या एक्यूप्रेशर जड़ से इलाज — Pgs. 53
19. चिरकालिक (क्रॉनिक) रोग — Pgs. 53
20. रोगनिरोधक उपाय — Pgs. 54
21. धूम्रपान, मदिरापान आदतों पर काबू पाने में मदद — Pgs. 55
22. एक्यूप्रेशर सौंदर्य बढ़ाने में मदद करता है — Pgs. 55
23. एक्यूप्रेशर से बचाव — Pgs. 56
24. भयंकर दर्द — Pgs. 56
25. पूरक आहार — Pgs. 57
26. एक्यूप्रेशर चिकित्सा के दिशा-निर्देश — Pgs. 58
27. चिकित्सा पद्धति विशेष रूप से प्रभावी — Pgs. 58
28. पोलियो मेल्टिस — Pgs. 59
29. प्रतिरक्षण तंत्र (इम्यून सिस्टम) — Pgs. 64
30. एक्यूप्रेशर चिकित्सा पद्धति सीखना और प्रैक्टिस — Pgs. 65
31. प्रेशर प्वॉइंट्स अधिक लाभ उठाने के लिए — Pgs. 65
32. अम्लता (एसिडिटी) — Pgs. 68
33. एलर्जी — Pgs. 70
34. कंठ शूल (एंजाइना) — Pgs. 73
35. Worry और Anxiety — Pgs. 75
36. गठिया (अर्थराइटिस) — Pgs. 77
37. दमा — Pgs. 82
38. पीठ दर्द — Pgs. 86
39. सौंदर्य — Pgs. 88
40. बिस्तर गीला करना — Pgs. 91
41. ‘कार्पल टनल सिंड्रोम’ एवं ‘टेंड नाइटिस’ — Pgs. 92
42. सर्वाइकल स्पॉन्डिलॉसिस — Pgs. 94
43. रक्त संचरण — Pgs. 96
44. जुकाम — Pgs. 98
45. कब्ज — Pgs. 100
46. खाँसी — Pgs. 102
47. ऐंठन या मरोड़ (क्रैंप्स) — Pgs. 104
48. अवसाद (डिप्रेशन) — Pgs. 106
49. डायबिटीज — Pgs. 110
50. डायरिया — Pgs. 115
51. चक्कर आना (डिजीनेस) — Pgs. 116
52. कान में दर्द — Pgs. 119
53. आँखों के रोग — Pgs. 120
54. मिरगी (एपिलेप्सी) — Pgs. 122
55. बेहोश व्यक्ति को होश में लाने में मदद — Pgs. 123
56. थकान — Pgs. 125
57. चेहरे पर लकवा (फेशियल पैरालिसिस) — Pgs. 127
58. फायब्रॉइड्स — Pgs. 129
59. उदर-वायु (फ्लेट्युलेंस) — Pgs. 131
60. ‘फ्रोजन शोल्डर’ — Pgs. 133
61. सिरदर्द — Pgs. 135
62. श्रवण संबंधी समस्याएँ — Pgs. 137
63. हिचकी — Pgs. 139
64. ‘हॉट फ्लशेज’ — Pgs. 141
65. उच्च रक्तचाप (हाइपरटेंशन) — Pgs. 144
66. निम्न रक्तचाप — Pgs. 147
67. रोग प्रतिरोधक तंत्र — Pgs. 149
68. एकाग्रता — Pgs. 152
69. नपुंसकता — Pgs. 154
70. ‘इनकॉन्टिनेंस’ — Pgs. 158
71. बदहजमी और हार्टबर्न — Pgs. 159
72. इनफर्टिलिटी — Pgs. 161
73. अनिद्रा रोग — Pgs. 164
74. विक्षुब्ध आँतों की अवस्था ‘इरिटेबल बाउल सिंड्रोम’ — Pgs. 168
75. घुटनों का दर्द — Pgs. 171
76. प्रसव वेदना — Pgs. 174
77. जाँघ/कूल्हे का दर्द — Pgs. 177
78. रजोनिवृत्ति (मेनोपॉज) — Pgs. 179
79. माइग्रेन का दर्द — Pgs. 182
80. ‘मॉर्निंग सिकनेस’ और ‘मोशन सिकनेस’ — Pgs. 184
81. मोटापा — Pgs. 186
82. ओस्टियोपोरोसिस — Pgs. 189
83. मासिक धर्म — Pgs. 192
84. प्रोलेप्स या स्लिप डिस्क — Pgs. 195
85. प्रॉस्टेट ग्रंथि — Pgs. 198
86. साइटिका — Pgs. 201
87. कंधों में तनाव/दर्द — Pgs. 204
88. साइनसाइटिस — Pgs. 207
89. त्वचा से जुड़ी समस्याएँ — Pgs. 209
90. गल-शोथ (सोर थ्रोट) — Pgs. 212
91. मोच — Pgs. 214
92. गरदन में अकड़न — Pgs. 216
93. तनाव — Pgs. 219
94. शरीर में सृजन (वॉटर रिटेंशन) — Pgs. 221
95. टेनिस एल्बो — Pgs. 223
96. टिन्निटस या कान बजना — Pgs. 226
97. दाँतों में दर्द — Pgs. 229
98. टॉन्सिलाइटिस — Pgs. 231
99. ट्राइजेमिनल न्यूरल्जिया — Pgs. 234
100. यूरिनरी ट्रैक्ट (यूटीआइ) — Pgs. 236

 

The Author

Preeti Pai

डॉ. प्रीति पई के लेडी हार्डिंग मैडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा सलाहकार के रूप में काम कर रही हैं। वे अनेक शोध परियोजनाओं से भी जुड़ी रही हैं, उन्होंने नई दिल्ली के डॉ.राम मनोहर लोहिया अस्पताल के मनोरोग मरीजों एवं जी.टी.बी.अस्पताल के यू.सी.एम.एस. में हृदय (सी.ए.डी.) मरीजों के लिए विशेष चिकित्सा एवं शोध करने में उल्लेखनीय योगदान किया है। विगत 12 वर्षों में उन्होंने 6500 से भी ज्यादा मरीजों का एक्यूपंचर एवं एक्यूप्रेशर द्वारा सफलतापूर्वक उपचार किया है।

A.K. Saxena

डॉ. ए.के. सक्सेना एक्यूप्रेशर के विशेषज्ञ हैं जो अब तक 5000 से अधिक रोगियों का सफल इलाज कर चुके हैं। लगभग अठारह वर्ष पूर्व उन्होंने एक्यूप्रेशर के प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ. अतर सिंह से इस चिकित्सा पद्धति का ज्ञान लिया; तदुपरांत आप इसके माध्यम से जनसामान्य को स्वास्थ्य के बारे में सजग करने का लोकहितकारी कार्य कर रहे हैं। आपका विश्‍वास है कि चामत्कारिक परिणामों के कारण ‘एक्यूप्रेशर’ रोगों से मुक्‍ति का एक सशक्‍त व महत्त्वपूर्ण माध्यम बन जाएगा। डॉ. एल.सी. गुप्‍ता चिकित्सा संबंधी लगभग सौ पुस्तकें लिखकर विश्‍व रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं। सन् 2002 में सार्क देशों के ‘मिलेनियम मेडीकल ऑथर’, 1998 में ‘बी.सी. रॉय राष्‍ट्रीय सम्मान’ व 1993 में उल्लेखनीय सेवाओं हेतु राष्‍ट्रपति के ‘पुलिस मेडल’ से सम्मानित।

Customers who bought this also bought

WRITE YOUR OWN REVIEW