1000 MADHYA PRADESH PRASHNOTTARI

1000 MADHYA PRADESH PRASHNOTTARI

Author: Anil Kumar
ISBN: 9788177211719
Language: Hindi
Publisher: Prabhat Prakashan
Edition: 2013
Publication Year: 2013
Pages: 152
Binding Style: Hard Cover
Rs. 200
Inclusive of taxes
In Stock
Call +91-11-23289555
for assistance from our product expert.
Description
मध्य प्रदेश का इतिहास बहुत पुराना है। यह भारत का दूसरा सबसे विशाल राज्य है। यह पश्‍च‌िमोत्तर में राजस्थान, उत्तर में उत्तर प्रदेश, पूर्वोत्तर में बिहार, पूर्व में छत्तीसगढ़, दक्षिण में महाराष्‍ट्र और पश्‍च‌िम में गुजरात राज्यों से घिरा हुआ है। जैसा कि इसके नाम से अर्थबोध होता है—मध्य का अर्थ ‘केंद्र’ और प्रदेश का अर्थ ‘क्षेत्र’ या ‘राज्य’। यह भारत की हृदयस्थली है।
मध्य प्रदेश में कुछ सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण प्रायद्वीपीय नदियों का उद‍्गम होता है—नर्मदा, ताप्‍ती (तापी), महानदी और वेनगंगा (गोदावरी की सहायक नदी)। यहाँ की अर्थव्यवस्था का आधार कृषि है। यहाँ कोयले की बड़ी खानें, लौह अयस्क, मैंगनीज, बॉक्साइट, चूना-पत्थर डोलोमाइट, ताँबा, अग्निसह्य मिट्टी और चीनी मिट्टी के महत्त्वपूर्ण भंडार हैं। पन्ना में हीरे की खानें विशेष महत्त्व रखती हैं।
यहाँ अनेक मंदिर, किले व गुफाएँ हैं। महू के समीप बौद्ध संबंधी बाघ गुफाएँ विशेष उल्लेखनीय हैं। श्रृंगारिक कला के लिए विश्‍व भर में प्रसिद्ध खजुराहो के मंदिर छतरपुर जिले में स्थित हैं।
‘1000 मध्य प्रदेश प्रश्‍नोत्तरी’ में मध्य प्रदेश के इतिहास, कला-संस्कृति, खान-पान तथा सामाजिक-सांस्कृतिक प्रसंगों को बड़े रोचक और आकर्षक ढंग से प्रश्‍नोत्तर रूप में प्रस्तुत किया गया है। यह पुस्तक पाठकों और शोधार्थियों के लिए समान रूप से उपयोगी।
The Author
Anil KumarAnil Kumar

जन्म : 31 अक्‍तूबर, 1965।
शिक्षा : हिंदी साहित्य में एम.ए., पोस्ट एम.ए., अनुवाद सिद्धांत एवं व्यवहार डिप्लोमा, पोस्ट एम.ए. अनुप्रयुक्‍त (हिंदी) भाषा विज्ञान डिप्लोमा, पोस्ट एम.ए. अनुप्रयुक्‍त (हिंदी) भाषा विज्ञान उच्च डिप्लोमा, बैचलर डिग्री इन मास कम्युनिकेशन, मास्टर डिग्री इन मास कम्युनिकेशन।
कृतियाँ : मैं भगतसिंह बोल रहा हूँ, हिंदी कोश साहित्य, लाल किले से, प्रेमचंद सूक्‍ति कोश, तुलसी सूक्‍ति कोश, प्रसाद सूक्‍ति कोश, शरत सूक्‍ति कोश, श्री नरेश मेहता सूक्‍ति कोश, स्वामी रामतीर्थ सूक्‍ति कोश, रवींद्रनाथ टैगोर सूक्‍ति कोश, अमृतलाल नागर सूक्‍ति कोश, सुभाष चंद्र बोस सूक्‍ति कोश, निराला सूक्‍ति कोश, मुक्‍तिबोध सूक्‍ति कोश,

प्रतिश्रुति : श्रीनरेश मेहता की समग्र कहानियाँ, मेरे साक्षात्कार : श्रीनरेश मेहता, महीप सिंह रचनावली (दस खंड), कुसुम अंसल रचनावली (सात खंड) (संपादित कृतियाँ), तुलसीनिर्देशिका, रामचरित मानस की सूक्‍तियों का अध्ययन, रामचरित मानस में शिक्षा दर्शन में संपादन सहयोग, तीसरा प्रभाकर, भारतीय मीडिया : अंतरंग परिचय, बच्चन : जाने के बाद एवं छोटे हाथ के रंग बड़े हाथ के संग में सहयोगी लेखक।
संप्रति : स्वतंत्र लेखन।

Reviews
Copyright © 2015 Prabhat Prakashan
Online Ordering      Privacy Policy